An ode to being Indian.... फिर भी दिल है हिंदुस्तानी


चोरों की सरकार यहाँ, चले गये राजा रानी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी.
Coke, Pepsi पीते है, भूल गये निम्बू पानी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी
Sharad Pawar और Kalmadi करे कपट, भूल गये वह शकुनी, फिर कैसे यह हिन्दुस्तानी?

CWG और 2G के किस्से है, जहा लिखी थी कभी राजा भारत की कहानी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी
बेच ने निकले अपने बच्चों को, है यह अनोखे honor की राजधानी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी
Corruption के लिए भुके रहे, पर यहाँ तोह सभी भुके खानदानी, फिर कैसे यह हिन्दुस्तानी?

जनता की सरकार यहाँ, फिर क्यूं करते कुछ लोग मनमानी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी.
जिस देश ने दुनिया को कामसुत्र सिखाया, उसीके बच्चे कहे यह बदनामी, फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी
जिस चीज़ की है दुनिया को शर्म, उसी जाती पति की करे यह सीना तानी, ऐसे है यह हिन्दुस्तानी.


Comments

Post a Comment

What do you think about the post? Have your say, like, dislike or even hate me. Tell me.

You might also want to Subscribe to RSS feeds or follow me on Twitter (@sidoscope) or on facebook

I don't need weapon, I have a sharp tongue.

Popular posts from this blog

Short Story: Parting ways

[Short Story] Return

Short Story: Ginger Chai